Insight Today
National

मायावती ने केन्द्र सरकार से उठाई कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग

लखनऊ, 9 जनवरी | कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों और केन्द्र सरकार के बीच बातचीत का आठवां दौर भी बेनतीजा रहा। इन सबके बीच बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने एक बार फिर नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग उठाई है।

मायावती ने शनिवार को ट्वीट कर कहा, “काफी समय से दिल्ली की सीमाओं पर आन्दोलन कर रहे किसानों व केन्द्र सरकार के बीच वार्ता कल एक बार फिर से नाकाम रही, जो अति-चिन्ता की बात है। केन्द्र से पुन: अनुरोध है कि नए कृषि कानूनों को वापस लेने की किसानों की मांग को स्वीकार करके इस समस्या का शीघ्र समाधान करे।”

इससे पहले उन्होंने लिखा था कि केन्द्र की सरकार को, हाल ही में देश में लागू तीन नए कृषि कानूनों को लेकर आन्दोलित किसानों के साथ हठधर्मी वाला नहीं बल्कि उनके साथ सहानुभूतिपूर्ण रवैया अपनाकर उनकी मांगों को स्वीकार करके, उक्त तीनों कानूनों को तत्काल वापस ले लेना चाहिए।

ज्ञात हो कि कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों और सरकार के बीच आठवें दौर की बातचीत बेनतीजा रही है। किसानों ने शुक्रवार को दो टूक कहा कि कानून वापसी होगी, तभी घर वापसी होगी।

Related posts

उप्र में हर दिन आ रहे 2 लाख लोग : अपर मुख्य सचिव

Newsdesk

यात्रा में मरे मजदूरों के परिजनों को मुआवजा दिलाने को पटना में कांग्रेस का धरना

Newsdesk

राष्ट्रपति ने ईद की मुबारकबाद दी, सुरक्षा नियमों का पालन करने का आग्रह

Newsdesk

Leave a Reply