Insight Today
National

बर्ड फ्लू को लेकर बिहार में अलर्ट, पटना चिड़ियाघर में विशेष एहतियात

पटना, 7 जनवरी | कई राज्यों में बर्ड फ्लू की हालिया रिपोर्ट के बाद बिहार में भी इसे लेकर अलर्ट कर दिया गया है। पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग ने दूसरे प्रदेशों में बर्ड फ्लू फैलने की सूचना मिलते ही पशुपालन पदाधिकारियों को ऐहतियातन सभी तैयारी रखने और सचेत रहने का निर्देश दिया है। विभाग द्वारा जिला पशुपालन अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि कहीं से भी ऐसी कोई सूचना प्राप्त होती है तो तत्काल विभाग को बताएं और आवश्यक कदम उठाएं।

विभाग ने कहा है कि बिहार में कहीं से भी इसकी कोई सूचना नहीं है, पर ऐहतियातन अलर्ट किया गया है। विभाग ने इसके लिए एक कोषांग बनाया है, जहां फोन पर 24 घंटे ऐसी किसी प्रकार की सूचना देने के लिए कहा गया है।

इधर, अतिसंवेदनशील माने जाने वाले पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान (चिड़ियाघर) में भी एहतियात बरती जा रही है। उद्यान विभाग के एक अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि पक्षियों के केज में दवा का छिड़काव करवाया जा रहा है तथा एक केज के कर्मचारियों को दूसरे केज में नहीं जाने के निर्देश दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि पक्षियों के केजों के बाहर ब्लीचिंग के छिड़काव किए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2018 में जैविक उद्यान में मोर सहित आठ पक्षियों की मौत हो गई थी। इसके बाद करीब डेढ़ महीने तक आम लोगों के लिए उद्यान को बंद कर दिया गया था।

इधर, बर्ड फ्लू की आहट के बाद चिकन के भाव गिरने लगे हैं। पटना में 125 रुपये प्रतिकिलो बिकने वाला चिकन थोक भाव एक साौ रुपये तक पहुंच गया है। बर्ड फ्लू की आशंका के कारण चिकन की मांग भी कम हो गई है, जिसका असर चिकन व्यवसायियों पर पड़ा है।

Related posts

आंध्र में कोरोना के 9,747 नए मामले, कुल आंकड़ा 1.7 लाख के पार

Newsdesk

बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 3,185 हुई

Newsdesk

प्रधानमंत्री मोदी ने दिल्ली में कोरोना के हालात पर जताई चिंता, केंद्र-राज्य समन्वय पर जोर दिया

Newsdesk

Leave a Reply