Insight Today
National

बदायूं मामले पर टिप्पणी के लिए प्रियंका ने एनसीडब्ल्यू के सदस्य को फटकार लगाई

नई दिल्ली, 8 जनवरी | कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने एनसीडब्ल्यू की सदस्य चंद्रमुखी देवी को उनके बयान के लिए फटकार लगाई है। चंद्रमुखी देवी ने कहा था कि बदायूं में एक महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म और जानलेवा हमला नहीं हुआ होता, अगर वह शाम को अकेले बाहर नहीं निकली होती या फिर उसके साथ एक बच्चा होता। कांग्रेस नेता ने कहा, “क्या आपको लगता है कि इस तरह के बयान के बाद महिला सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी? एनसीडब्ल्यू सदस्य अपराध के लिए पीड़िता को दोषी ठहरा रही हैं। प्रशासन परेशान है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट कैसे लीक हो गई? मुरादाबाद में, एक पीड़ित महिला अपने जीवन से जूझ रही है। “

राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में 50 वर्षीय सामूहिक बलात्कार पीड़िता के गांव का दौरा किया, और कहा कि यह अपराध नहीं हुआ होता, अगर महिला शाम में अकेले बाहर नहीं निकलती।

एनसीडब्ल्यू की सदस्य ने कथित रूप से कहा, “यह एक ऐसा अपराध है जिसने मानवता को शर्मसार कर दिया है, लेकिन मैं यह भी कहना चाहूंगी कि महिलाओं को शाम के समय में अकेले बाहर नहीं निकलना चाहिए। मुझे लगता है कि महिला ने शाम को बाहर कदम नहीं रखा होता, या उसका एक बच्चा उसके साथ होता तो यह घटना नहीं होती। “

वहीं एनसीडब्ल्यू की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने कहा, “मुझे नहीं पता कि सदस्य ने यह कैसे और क्यों कहा है, लेकिन महिलाओं को अपनी मर्जी से, जब भी और जहां भी चाहें जाने का अधिकार है।”

Related posts

कोरोना रोगियों पर प्लाज्मा थेरेपी के सकारात्मक परिणाम दिख रहे : केजरीवाल

Newsdesk

हांगकांग पर चर्चा को तैयार अमेरिका, चीन ने भारत को दिए सुलह के संदेश

Newsdesk

राज्यों को कोरोना टेस्ट की कीमत कम करनी चाहिए : आईसीएमआर

Newsdesk

Leave a Reply