Insight Today
National

ट्रैक्टर मार्च के दौरान ईस्टर्न पेरिफेरल पर ही हुआ लंगर, जमीन पर बैठ किसानों ने खाया खाना

उप्र, 7 जनवरी (आईएएनएस)| कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन 43वें दिन भी जारी है। किसानों और सरकार के बीच अभी तक इस मसले पर कोई हल नहीं निकल सका है। विरोध प्रदर्शन को आगे बढ़ाते हुए किसानों ने गुरुवार को ट्रैक्टर मार्च निकाला। वहीं मार्च के दौरान जब किसानों को भूख लगी तो ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर ही किसानों ने अपना लंगर शुरू कर दिया। दरअसल किसानों के ट्रैक्टर मार्च में अलग से गाड़ियों में किसानों के लिए खाने का इंतजाम किया गया है। इन गाड़ियों में पानी की व्यवस्था, खाने के लिए रोटी सब्जी और फल रखे गए हैं।

किसानों के एक जत्थे ने ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर ही अन्य किसान भाइयों के लिए खाने की व्यवस्था करते हुए बीच मार्ग पर ही लंगर सेवा शूरु कर दी। किसानों ने जमीन पर बैठ कर खाना खाया और फिर अपने अन्य साथियों के मार्च में शामिल हो गए।

दरअसल गुरुवार सुबह 11 बजे गाजीपुर से किसान नेशनल हाईवे-24 से होकर डासना से पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से पलवल पहुंचे। हालांकि इस मार्च को देखते हुए पुलिस प्रसाशन भी सख्त दिखा।

प्रशासन द्वारा किसानों के इस मार्च पर पूरी नजर बनी रही, पुलिस विभाग के बड़े अधिकारी भी किसानों के साथ इस मार्च में साथ साथ चलते रहे।

Related posts

पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन

Newsdesk

मेहुल चौकसी से पैसा क्यों लिया? जेपी नड्डा ने सोनिया गांधी से पूछे 10 सवाल

Newsdesk

मप्र में 24 घंटों में कोरोना के ढाई हजार नए मामले आए

Newsdesk

Leave a Reply