Insight Today
World

कैपिटल में हंगामे के बाद ट्विटर, फेसबुक ने अस्थायी तौर पर ब्लॉक किया ट्रंप का अकाउंट

वाशिंगटन, 7 जनवरी | सोशल मीडिया दिग्गज ट्विटर और फेसबुक ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अकाउंट को अस्थायी तौर पर बंद कर उन्हें पोस्ट करने से रोक दिया है। यह कदम ट्रंप के समर्थकों द्वारा वाशिंगटन डीसी में कैपिटल भलन पर हिंसक हमला करने के बाद उठाया गया है। बुधवार को एक वीडियो में ट्रंप ने अपने समर्थकों को संबोधित कर 3 नवंबर 2020 के चुनाव में हुई धांधली का निराधार आरोप दोहराया, जिसने उनके समर्थकों को कैपिटल जाने के लिए मजबूर किया।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार की देर रात एक बयान में ट्विटर ने कहा कि ट्रंप के निजी ट्विटर अकाउंट को 12 घंटे के लिए बंद कर दिया जाएगा क्योंकि उन्होंने प्लेटफॉर्म की हिंसक धमकियां देने संबंधी नीतियों का उल्लंघन किया था। यदि वह आगे भी ऐसा करते हैं तो उनका अकाउंट स्थायी तौर पर बंद कर दिया जाएगा।

ट्विटर सेफ्टी ने एक बयान में कहा, “हमारी सिविक इंटिग्रिटी या हिंसक धमकियों को लेकर बनाई गई नीतियों समेत ट्विटर के नियमों का भविष्य में होने वाले उल्लंघनों को देखते हुए एट द रेट रियल डोनाल्ड ट्रंप का अकाउंट स्थायी रूप से निलंबित कर दिया जाएगा।”

फेसबुक ने पहले तो वीडियो को नहीं हटाया था और इसके बजाय उस पर लेबल लगा दिया था। द हिल समाचार वेबसाइट ने एक रिपोर्ट में कहा है कि पोस्ट को हटाए जाने से पहले के 30 मिनट में 49 हजार बार शेयर कर लिया गया था।

फेसबुक में इंटीग्रिटी के वाइस प्रेसिडेंट ने एक बयान में कहा, “यह एक आपातकालीन स्थिति है और हम राष्ट्रपति ट्रंप के वीडियो को हटाने जैसे उचित उपाय कर रहे हैं। हमने वीडियो हटा दिए हैं क्योंकि हमारा मानना है कि यह हिंसा के जोखिम को कम करता है।”

इतना ही नहीं गूगल के स्वामित्व वाले यूट्यूब ने भी वीडियो को हटा दिया है। उसने कहा है कि इसने प्लेटफॉर्म की नीतियों का उल्लंघन किया है। यूट्यूब के प्रवक्ता एलेक्स जोसेफ ने कहा है, “हम आने वाले घंटों में भी सतर्क रहेंगे।”

बता दें कि बुधवार को कैपिटल के अंदर हुई गोलीबारी में महिला की उस वक्त मौत हो गई जब बड़ी संख्या में ट्रंप के समर्थकों ने बिल्डिंग पर कब्जा कर लिया था और कांग्रेस के लोकतांत्रिक कामकाज को रोकने के लिए हिंसक प्रदर्शन किया। उस समय यहां सीनेट और हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव्स राष्ट्रपति के रूप में जो बाइडेन और उप-राष्ट्रपति के पद पर कमला हैरिस के चुने जाने की पुष्टि की प्रक्रिया कर रहे थे।

Related posts

विदेशी सैनिकों को अफगानिस्तान में उनके अपराधों की सजा मिले

Newsdesk

ब्राजील में कोरोना से मरने वालों की संख्या 108536 हुई

Newsdesk

हम 100 विशेष आर्थिक जोन स्थापित करेंगे: शेख हसीना

Newsdesk

Leave a Reply