Insight Today
Health & Science National

एसआईआई, भारत बायोटेक ने खत्म किया झगड़ा

नई दिल्ली, 5 जनवरी | एक-दूसरे पर कड़वी टिप्पणी करने के बाद सीरम इस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) के अडार पूनावाला और भारत बायोटेक के कृष्णा एला ने एकजुटता दिखाते हुए उम्मीद जताई कि कोविड-19 टीकों का निर्माण और आपूर्ति दोनों कंपनी साथ साथ मिलकर करेंगे। एक संयुक्त बयान में कहा गया, “दोनों कंपनियां एक दूसरे द्वारा किए जा रहे महान कार्य का सम्मान करती हैं और पिछले सप्ताह हुई गलतफहमी को पीछे छोड़ती है। हम वैक्सीन के महत्व के बारे में पूरी तरह से जानते हैं। हम एक साथ मिल कर कोविड-19 टीकों को दूसरे देशों तक पहुंचाएंगे।”

इससे पहले भारत बायोटेक ने सोमवार को सीरम इंस्टीट्यूट पर परीक्षणों की गुणवत्ता पर सवाल उठाए थे।

उन्होंने कहा, उनके सामने भारत और दुनिया के लोगों के जीवन और आजीविका को बचाना ही सबसे महत्वपूर्ण काम है।

टीके सार्वजनिक स्वास्थ्य और आर्थिक गतिविधियों को जल्द से जल्द पटरी पर लाने के लिए जरूरी है।

अब जब भारत में दो कोविड-19 टीकों को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दी गई है, तो ऐसे में अब इनके विनिर्माण, आपूर्ति और वितरण पर ध्यान केंद्रित करने का समय आ गया है।

एक संयुक्त बयान में उन्होंने कहा, “हमारी दोनों कंपनियां इस गतिविधि में पूरी तरह से लगी हुई हैं और बड़े पैमाने पर टीके के रोलआउट को सुनिश्चित करने के लिए देश और दुनिया के लिए अपना कर्तव्य मानती है। हम कोविड-19 वैक्सीन को योजना के अनुसार लागू करने के लिए काम कर रहे हैं।”

Related posts

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले 2.77 करोड़ के पार

Newsdesk

मप्र में कोरोना के रिकार्ड 798 नए मामले सामने आए

Newsdesk

मेरी पार्टी ही मेरा परिवार: संबित पात्रा

Newsdesk

Leave a Reply