Insight Today
Crime National

एफआईसीएन मामले में 3 के खिलाफ पूरक आरोप पत्र दायर

मुंबई, 5 जनवरी | राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने एक फेक इंडियन करेंसी नोट्स (एफआईसीएन) मामले में तीन लोगों के खिलाफ पूरक आरोप पत्र दायर किया है। एनआईए के एक प्रवक्ता ने कहा कि मुंबई के एनआईए की विशेष अदालत में जसीम उर्फ वसीम, इशाक खान और राधाकृष्ण के खिलाफ मुंब्रा मामले की जांच के सिलसिले में सोमवार को आरोप पत्र सौंपा गया। मामले में 82,000 रुपये के एफआईसीएन को जसीम के घर से जब्त किया गया था।

आरोपियों ने कथित तौर पर भारत के विभिन्न हिस्सों में जाली मुद्रा प्रसारित करने की साजिश रची थी।

एनआईए ने आरोप लगाया कि साजिश के अंतर्गत इशान खान, जो कोलकाता के अलीपुर में प्रेसीडेंसी सुधार गृह में बंद था, ने 14 मई, 2019 को कर्नाटक के चिक्काबलापुर में केएसआरटीसी बस स्टैंड के बाहर जसीम और राधाकृष्ण के बीच एक बैठक करवाई।

इशाक के इशारे पर राधाकृष्ण ने 82,000 रुपये नकली मुद्रा में वितरित किए थे।

अधिकारी ने कहा, “इस लेनदेन के बारे में विश्वसनीय जानकारी के आधार पर, जसीम के घर छापा मारा गया और जाली मुद्रा व अन्य आपत्तिजनक सामग्रियों को जब्त किया गया। ईशाक से पूछताछ में पता चला है कि नोट बांग्लादेश से भारत में लाए गए थे।”

Related posts

कर्नाटक के मंदिर में 3 पुजारी की हत्या

Newsdesk

कर्नाटक में कोरोना के 2,738 नए मामले, कुल संख्या 41 हजार के पार

Newsdesk

देश में अब कोविड मामलों की कुल संख्या 8.2 लाख से ज्यादा

Newsdesk

Leave a Reply